नई दिल्लीः रिटायरमेंट के बाद एक तय रकम पेंशन के रूप में मिलने से बड़ी आर्थिक राहत मिलती है. सरकारी कर्मचारियों को यह सुविधा सरकार की तरफ से मिलती है. यही वजह है कि असंगठित क्षेत्र के लोगों को पेंशन सुविधा देने के लिए सरकार ने साल 2015 में अटल पेंशन स्कीम (Atal Pension Scheme) की शुरुआत की थी. इस योजना का मकसद असंगठित या निजी क्षेत्र के कामगारों को बुढ़ापे में एक तय पेंशन की सुविधा देना है.

क्या है अटल पेंशन योजना का लाभ उठाने की योग्यता?
अटल पेंशन योजना का लाभ 18 से 40 साल का देश का कोई भी नागरिक ले सकता है. बस शर्त ये है कि वह सरकारी कर्मचारी ना हो और साथ ही टैक्सदाता भी अटल पेंशन योजना का लाभ नहीं ले सकते.

210 रुपए मासिक जमा करने पर मिलेगी 5000 की पेंशन
अटल पेंशन योजना में कितने रुपए निवेश करने पर कितनी पेंशन मिलेगी, यह इस बात पर निर्भर करता है कि आप किस उम्र में निवेश शुरू कर देते हैं. अगर कोई व्यक्ति 18 साल की उम्र से ही अटल पेंशन योजना में निवेश करता है तो उसे 42 साल तक निवेश करना होगा. अगर वह 210 रुपए जमा करता है तो उसे 60 साल के बाद 5000 रुपए मासिक पेंशन मिलेगी. व्यक्ति अपनी जरूरत के अनुसार इससे भी कम का निवेश कर सकता है. उसी हिसाब से उसे मासिक पेंशन कम मिलेगी.

अगर कोई व्यक्ति 30 साल की उम्र में अटल पेंशन स्कीम में निवेश करता है और उसे 5000 रुपए मासिक की पेंशन लेनी है तो उसे 577 रुपए मासिक का निवेश करना होगा. पूरी डिटेल जानकारी के लिए ऑनलाइन अटल पेंशन स्कीम की जानकारी प्राप्त की जा सकती है.

नॉमिनी को मिलेगा इतना फंड
इस योजना के तहत अगर 18 साल की उम्र में स्कीम लेने वाला स्कीम धारक और उसकी पत्नी की 60 साल के बाद मौत हो जाती है तो जो इस योजना का नॉमिनी होगा उसे 8.50 लाख रुपए की रकम भी मिलेगी.

ये भी जानें
अटल पेंशन स्कीम योजना में आपके पास बचत खाता और आधार कार्ड होना जरूरी है. निवेश की रकम आपके बचत खाते से ऑटोमैटिक कटती रहेगी. अगर कोई व्यक्ति 6 महीने तक अटल पेंशन स्कीम में निवेश नहीं करता है तो उसका अकाउंट फ्रीज कर दिया जाएगा. वहीं 12 महीने में डि-एक्टिवेट और 24 महीने तक किस्त जमा नहीं करने पर अकाउंट बंद कर दिया जाएगा.

60 साल होने पर खाताधारक को बैंक में जाकर एक फॉर्म भरना होगा और उसे पेंशन मिलनी शुरू हो जाएगी. अगर 60 साल से पहले खाताधारक की मौत हो जाती है तो उसकी पत्नी को इस योजना का लाभ मिलेगा और अगर दोनों की मौत हो जाती है तो योजना के नॉमिनी को निवेश के हिसाब से एकमुश्त रकम मिल जाएगी.

अगर कोई व्यक्ति 60 साल का होने से पहले बीच में ही इस योजना को बंद करना चाहता है तो उसे उसका सारा पैसा ब्याज सहित मिल जाएगा.

अटल पेंशन स्कीम में खाता खुलवाने के लिए आपको उस बैंक में जाना होगा, जहां आपका बचत खाता है. वहां आपको एक एपीवाई फॉर्म भरना होगा और उसके साथ अपने आधार कार्ड की कॉपी लगानी होगी. इसके साथ ही आपका अटल पेंशन योजना का खाता शुरू हो जाएगा.

कैसे खुलवाएं ऑनलाइन खाता
अगर आपका बचत खाता स्टेट बैंक ऑफ इंडिया में है तो ऑनलाइन भी अटल पेंशन स्कीम को शुरू किया जा सकता है. सबसे पहले आपको ऑनलाइन एसबीआई डॉट कॉम वेबसाइट पर जाना होगा. वहां पर आपको पर्सनल बैंकिंग में लॉग इन करना होगा. इसके बाद यूजर आईडी पासवर्ड डालकर लॉग इन पूरा होगा.

इसके बाद ई-सर्विस के लिंक पर क्लिक कर More का विकल्प दिखाई देगा. जहां क्लिक कर आपको सोशल सिक्योरिटी स्कीम के लिंक पर क्लिक करना होगा. जहां अटल पेंशन स्कीम को सलेक्ट करेंगे. इसके बाद आपके सामने जो फॉर्म खुलेगा उसे भरकर सबमिट करेंगे.





Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *