नई दिल्ली: राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (Rashtriya Swayamsevak Sangh) के सरसंघ चालक मोहन भागवत (Mohan Bhagwat) ने देश पर हमला करने वाले मुस्लिम (Muslim) आक्रमणकारियों पर जमकर निशाना साधा. मोहन भागवत ने कहा कि पहले जब विदेशी आक्रमणकारी भारत में आते थे तो लूटमार करके चले जाते थे. लेकिन जब इस्लामिक आक्रमणकारी यहां आए तो उन्होंने देश को लूटा और यहीं पर बस गए.

औरंगजेब ने मुसलमानों में अलगाववाद पैदा किया

मोहन भागवत (Mohan Bhagwat) ने कहा कि औरंगजेब ने देश के मुसलमानों में अलगाववाद पैदा किया. उसके बाद अंग्रेजों ने भी वही तरीका अपनाया. आज देश में कोई विदेशी नहीं है और यहां पर रहने वाले सभी लोग हमारे पूर्वजों के वंशज हैं. गांधी जी ने कहा था हिन्दुत्व सत्य के सतत अनुसंधान का नाम है, ये काम करते करते आज हिन्दू समाज थक गया है, सो गया है, परन्तु जब जागेगा पहले से अधिक ऊर्जा लेकर जागेगा और सारी दुनिया को प्रकाशित कर देगा.

भारत को ‘भारत’ की नजर से समझना पडेगा

संघ (RSS) प्रमुख ने कहा कि आज हम अपनी भाषा और तर्कशांक्ति से सोच भी नहीं सकते हैं. हमें अब भारत को ‘भारत’ की नजर से समझना पडेगा. पहले लोग कहते थे कि इतने राजा होने के बाद भी देश एक एक राष्ट्र कैसे बन सकता है, लेकिन वह बना. उन्होंने कहा कि हजारों सालों से हमारे देश में जैविक खेती का जो तरीका था, वह अब वापस आ रहा है. उन्होंने कहा कि हमारा किसान ही हमारा शास्त्र है.

ये भी पढ़ें- RSS प्रमुख Mohan Bhagwat से मुलाकात पर Mithun Chakraborty बोले- राजनीति से नहीं कोई मतलब

किसानों की प्रतिभा और पूर्वजों का ज्ञान हमारे पास

मोहन भागवत (Mohan Bhagwat) रविवार को दिल्ली में एक किताब के विमोचन समारोह को संबोधित कर रहे थे. उन्होंने कहा कि हमारे किसान को अपने आधार पर खेती करनी चाहिए. किसानो की प्रतिभा और पूर्वजों का ज्ञान हमारे पास है. हमें आत्मनिर्भर भारत बनाना है तो देश को अपनी आत्मा में देखना होगा. अब कोई विदेशी आक्रमणकारी भारत में आने वाला नहीं है. उन्होंने कहा कि हमारे धर्म में सभी को सम्मान मिलता है. यहां पर 40-45 देशों के लोग 4-5 साल के बाद भारत आते हैं.

लाइव टीवी





Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *